राज परिवार

ब्रिटेन में राजशाही, राज परिवार और राजमहल हमेशा चर्चा में रहते हैं। इनसे जुड़ी चीजों को सभी जानना चाहते हैं। चलिए तो आज आपको यहां की महारानी के टेबल एटिकेट्स बारे में बताते हैं। इनके टेबल एटिकेट्स को जानकर आप दंग रह जाएंगे।
खाने की बर्बादी नहीं पसंद
कई घरों में बचे हुए खाने को फेंक दिया जाता है। लेकिन इंगलैंड की महारानी ने रोयल किचन के कर्मचारियों को सख्त हिदायत दी है। उन्होने बचे हुए खाने को फेंकने के बजाय उसे दोबारा इस्तेमाल करने के लिए कहा गया है।

ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हे खाना बर्बाद करना बिल्कुल पसंद नहीं है।

  • लहसून के इस्तेमाल पर पाबंदी- हम अक्सर खाने के जायका को बढ़ाने के लिए उसमें लहसुन का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन इंगलैंड के रोयल किचन में लहसुन के इस्तेमाल पर पाबंदी है। खाने के बाद सांस में बदबू नहीं आए इसलिए ऐसा किया गया है।
  • बगीचे की सब्जियां प्रमुखता- प्रिंस चार्ल्स अधिकतर अपने बगीचे में उगे जैविक सब्जियां खाना पसंद करते हैं।
  • Shellfish खाने पर रोक- शाही परिवार के सदस्य Shellfish नहीं खाते हैं। ऐसा माना जाता है कि सेलफिश खाने से लोग आसानी से बीमार पड़ जाते हैं इसलिए उन्हे इसकी अनुमति नहीं है।
  • अलग बनता खाना- प्रिंस चाल्स अपने खाने को किसी के साथ शेयर नहीं करते। इसके कारण उनका खाना अलग तैयार किया जाता है।
  • हरी सब्जियों को महत्व- महारानी एलीजाबेथ अपने मुख्य आहार के साथ ज्ययादा से ज्यादा सलाद और हरी सब्जियों का सेवन करती हैं।
  • चॉकलेट नहीं पसंद- महारानी एलिजाबेथ को चॉकलेट और बिस्कुट से प्यार नहीं है। उन्हे ये सब चीज खाने में बिल्कुल पसंद नहीं। अगर वो कहीं दौरे पर जाते हैं तो अपने साथ चॉकलेट बिस्कुट घर से लेकर जाती हैं।
  • शाही परिवार में पास्ता को किसी खास मौके पर ही परोसा जाता है।
  • शाही परिवार के सदस्य खाने की टेबल पर अपने स्टाफ से छुरी-कांटे के सांकेतिक भाषा में बात करते हैं।
  • शाही परिवार का ये नियम है कि जिस वक्त महारानी खाना खा चुकी होती है तो सब अपने चम्मच को नीचे रख देते हैं।
  • अगर महारानी को ये खाना जल्दी खत्म करने का संदेश देना है तो वो अपना पर्स टेबल पर रख देती है इसका मतलब ये होता है कि अब सभी को 5 मिनट के अंदर खाना खत्म करना है।
  • महारानी डिनर की शुरुआत दांये बैठे व्यक्ति से करती है। खाना देने के दूसरे दौर में बायें बैठे व्यक्ति से बात करती हैं।
  • शाही परिवार में चाय के कप को पकड़ने का भी तरीका होता है। इसके लिए आपको चुटकी से कप की डंडी को पकड़ना होता और बीच वाली उंगली से कप को सहारा देना होता है।
  • खाने के वक्त इन परिवार के सदस्यों को फॉर्मल कपड़े पहनने होते हैं।

Also Read – CHOOSING THE RIGHT SIDE OF HISTORY

Image Reference – https://www.tripadvisor.in/LocationPhotoDirectLink-g304555-d302892-i130641280-The_Oberoi_Rajvilas-Jaipur_Jaipur_District_Rajasthan.html

By Nidhi Savya

Talented and immensely creative journalist with a commitment to high-quality research and writing.  Dedication to sound investigative research methods and a strong desire to know the truth of the matter. Currently walking on the path of gaining experience in the field of journalism. Breaking News Reporter- Working in Kashish News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *